Moral Stories

Essay on Holi In Hindi | Story Behind Holika Dahan

Essay On Holi In Hindi (Festival of Colors)

Holi | Holika Dahan | Holi Celebration


holi festival
प्रिय पाठको, निबंध लेखन एक प्रतिभा है | जिसमे हम कुछ मापदंडो का प्रयोग कर अपने विचारो , पूर्व की जानकारी और वर्तमान हालात के अनुसार बहुत ही बेहतर निबंध लिख सकते है | Essay Writing भारत की शिक्षा प्रणाली में महत्वपूर्ण भूमिका रखती है | प्रारंभिक शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा तक हमे Essay Writing करनी पड़ती है | हमारी शिक्षा प्रणाली में बहुत सारे विषयों पर Essay Writing टेस्ट लिया जाता है | यदि हम प्रमुख Essay Topics की बात करें तो ये निम्नलिखित है :-
  • Argumentative Essay Topics
  • Essay Topics On Education
  • Essay Topics On Festival 
  • Essay Topics On Ideal Personality
  • Essay Topics On Environment or Nature 
यहाँ पर हमने  “Essay Topics On Festival” इस Category में भारत के प्रमुख festival Holi पर Essay हिंदी में प्रस्तुत किया है | Holi का त्योहार भारत में दूसरे नंबर पर सबसे प्रचलित त्योहारों में से एक है | इसे “रंगों का त्योहार” नाम से भी जाना जाता है | 


भारत दुनिया में एक मात्र ऐसा देश है जहा सबसे ज्यादा त्योहार मनाये जाते है | इसी वजह से भारत में पूरे साल कोई न कोई त्यौहार मनाया जाता है |

Holi Festival भी भारत के प्रमुख त्योहारों में से एक है | Holi Festival पूरी दुनिया में Festival of Colors के नाम से भी जाना जाता है । Holi हिंदुओं के सबसे महान त्योहारों में से एक है। यह रंगों का त्योहार है इसलिए Holi Festival में Holi Colours भी बहुत खास होते है । यह त्योहार हिंदू कैलेंडर के फाल्गुन महीने में एक पूर्णिमा के दिन पड़ता है। 

Story Behind Holi 


story behind holi
यह है कि हिरण्यकश्यप नाम का एक राजा था, उसका एक पुत्र था, प्रह्लाद | Holi Story हिन्दुओ के साथ साथ सभी धर्मो के लोगो में बहुत प्रचलित है | Holi story बाल भक्त प्रह्लाद और उसकी विष्णु भक्ति की एक कहानी है | भक्त प्रह्लाद की अटूट भक्ति जो विष्णु जी के प्रति थी उसे देख हिरण्यकश्यप बहुत क्रोधित हुआ क्योकि वह भगवान विष्णु को अपना शत्रु मानते थे | इसी वजह से उसने प्रह्लाद को दण्डित करने का कई बार प्रयास किया परन्तु हर बार वह असफल रहा | Holi story बस यही नही है इसके आगे हिरनकश्यप ने अपनी होलिका के साथ अपने पुत्र को मारने की योजना बनाई। उन्होंने अपनी बहन Holika से कहा, जिसे आग में न जलने का वरदान प्राप्त था कि तुम प्रह्लाद को अपनी गोद में ले कर बहुत सारी लकडियों के ढेर पर बैठ जाना जिसमे आग लगा दी जाएगी । Story Behind Holi यही है सौभाग्य से प्रह्लाद, जिसे  भगवान का आशीर्वाद प्राप्त था,वह  बच गया और होलिका जलकर राख हो गई।
तब से Holi Festival इसी तरह से पूरे भारत में बड़ी धूमधाम से Holika Dahan के साथ मनाया जाता है | प्रतिवर्ष Holika Dahan के बाद ही  दुसरे दिन से Holi रंग, गुलाल और मिष्ठान के साथ मनाई जाती है |
Holi भी प्रेम और एकता का त्योहार है और बुराई पर अच्छाई की विजय का जश्न मनाता है। Holi Celebration उत्तर भारत में बहुत धूमधाम के साथ मनाया जाता है। एक मज़ेदार भरा और रोमांचक दिन के बाद, शाम को बड़े आराम से बिताया जाता है, जब लोग दोस्तों और रिश्तेदारों से मिलते हैं और मिठाई और उत्सव की शुभकामनाएँ देते हैं।
holi celebration

Essay on Holi In Hindi
Holi Festival बुराई पर अच्छाई की जीत का त्योहार है | इस त्योहार में लोग अपने पुराने गिले शिकवे भूलकर बड़े प्रेम से एक दूसरे को रंग लगाकर, गले मिलकर Holi celebration का लुफ्त उठाते है | Holi Utsav की एक खास बात यह भी है कि इस दिन सभी लोग पुराने लड़ाई झगड़े, मन मुटाव को खत्म कर नई दोस्ती की शुरुआत करते है | Holi Utsav ही एक मात्र ऐसा अनूठा त्योहार है जिसमे दोस्त यार, नाते रिश्तेदार सभी रंगों के साथ एक दुसरे को दिल रंग लगाकर अपनी खुशिया share करते है |
“बुरा न मानो holi है ” और “Happy Holi” इस कथन के साथ Holi celebration लोगो का बस देखते  ही बनता है |

 Essay On Holi In Hindi

Amazing facts about Holi Festival:-

1.  Holi हिंदुओं के सबसे महान त्योहारों में से एक है।
2. यह रंगों का त्योहार है। Festival Of Colors 
3. यह त्योहार हिंदू कैलेंडर के फाल्गुन महीने में एक पूर्णिमा के दिन पड़ता है।
भारत में Holi का मूल एक वसंत त्योहार है।
4. Story Behind Holi यह है कि हिरण्यकश्यप नाम का एक राजा था, उसका एक पुत्र था, प्रह्लाद, जिसे मारने के लिए उसके पिता ने ही उसे आग में जला देने की योजना बनायीं थी |

Essay on Holi In Hindi
5. Holi Festival की शुरुआत Holika Dahan के साथ शुरू होती है |
 Holi नाम होलिकासे आता है, जो दानव राजा हिरण्यकश्यपकी बहन है।
 यह दो दिवसीय त्योहार है। पहला दिन अलाव रात है जिसे Holika Dahan के नाम से जाना जाता है|
6. Holi Utsav पर लोग एक दूसरे को रंग लगाते है इसलिए Holi Festival एक और नाम से जाना जाता है, जिसे Festival of Colors भी कहते है | एक दूसरे पर रंगों की बौछार करने से पहले लोग आमतौर पर एक दूसरे के माथे पर एक खड़ी रेखा रखते हैं जिसे तिलककहा जाता है।
7. रंगों का त्योहार बूरा न मानो, Holi हैके लिए भी लोकप्रिय है। जिसका अर्थ है बुरा मत मानना, यह Holi है।

Essay on Holi In Hindi
8. एक मज़ेदार भरा और रोमांचक दिन के बाद, शाम को बड़े आराम से बिताया जाता है, जब लोग दोस्तों और रिश्तेदारों से मिलते हैं और मिठाई और उत्सव की शुभकामनाएँ देते हैं।
9.  Holi Festival पर, लोग मिठाइयों को गुजियाके नाम से जानते हैं, जो मूल रूप से एक मिठाई है। ये पकौड़ी सूखे-मेवे, खोये और बहुत कुछ के साथ भरी हुई हैं।
10. मथुरा और वृंदावन में एक अलग प्रकार की Holi ura लठमार Holi के रूप में जानी जाती है, जिसमें महिलाएं और पुरुष पारंपरिक वेशभूषा में कपड़े पहनते हैं और छड़ी और एक ढाल के साथ Holi खेलते हैं।

 11.  Holi भी प्रेम और एकता का त्योहार है और बुराई पर अच्छाई की विजय का जश्न मनाती है। इस त्योहार में Happy holi बोलकर भी लोग आपस में holi celebration को और खास बना देते है |
12.  इस त्योहार में  लोग एक दूसरे को Holi wishes, Holi message और holi greetings भी भेजते है |
13. holi day पूरी तरह से fun day होता है जिसमे यह त्योहार कितने जल्दी ख़त्म हो जाता है पता ही नही चलता है |

इसके अलावा हम निरंतर प्रयत्नशील रहेगे आपको नियमित रूप से बेहतर से बेहतर Hindi Kahaniya आपसे साझा करने के लिए | प्राचीन समय से हम Kahaniya सुनकर बच्चों को प्रेरित करते आये है | पहले के समय में बच्चे दादा-दादी के पास पहुचते ही kahaniya सुनने की जिद करते थे और फिर दादा-दादी उन्हें kahaniya सुनाते थे | वर्तमान में जबसे हमने अपना परिवार सीमित कर लिया है तब से अब हमारे बच्चे इन सब से वंचित रह गये है | आज कल बच्चो में कहानिया पड़ने और सुनने की रूचि भी कम हो गयी है परन्तु kahaniya हमेशा बच्चो को जागरूक करने, नई सीख देने और उनके दिमाग को विकसित करने में मददगार साबित होती है |
हमारा प्रयास भी सिर्फ बच्चो में निहित प्रतिभा को kahaniya के माध्यम से निखारने का है | जिसके लिए हमें हर कदम पर आपका प्यार और support ही सफल बना सकता है |  इसके  लिए आपको बस हमे प्रोत्साहित करते रहना है|  


          WebKahaniya में सिर्फ आपको chote bchho ki kahaniya, dadi maa ki kahaniya, jungle ki kahani, new kahani, moral stories और समस्त प्रकार की Hindi Kahaniya मिल जाएगी |
हिंदी कहानिया पड़ने के लिए निम्न में से किसी में भी क्लिक कर सकते है :-

Related posts

The Foolish Donkey and Old Lion [Sleep Stories For Kids]

Deepak Gupta

जैसे को तैसा [Jaise Ko Taisa Story In Hindi]

Deepak Gupta

दयालु हाथी और मतलबी दोस्त की कहानी [Kind Elephant Moral Story Hindi]

Deepak Gupta

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GIPHY App Key not set. Please check settings

close